आजकल हर जगह अंग्रेजी बोलने वालों की डिमांड है। कोई भी नौकरी चाहे कितनी भी छोटी हो अथवा बड़ी सबसे पहली और अनिवार्य शर्तों में से एक होता है इंग्लिश बोलने आना। वैसे तो भारत विश्व का तीसरा सबसे ज्यादा अंग्रजी बोलने वाले देश में से आता है फिर भी ऐसे बहुत से लोग हैं जिन्हें अंग्रेजी बोलने में झिझक महसूस होती है। और इस चक्कर में कई बार लोग अच्छी अंग्रेजी आते हुए भी बोल नहीं पाते हैं। बहुत बार ऐसा भी होता है सब कुछ आते हुये भी केवल अच्छी इंग्लिश नहीं बोलने की वजह से कई बार लोग जॉब इंटरव्यू में छट जाते हैं तो कई छात्र-छात्राओं को अच्छे कॉलेज में एडमिशन नहीं मिल पाता है। इसी से समझ सकते हैं कि आज के समय में अंग्रेजी बोलने आना कितना जरुरी हो गया है। लेकिन समस्या ये है कि आखिर बोले कैसे तो आज हम आपको इस आर्टिकल 5 ऐसे आसान तरिकों के बारे में बताएगें जिसे अपनी दिनचर्या में अपनाने से आप भी आसानी से बोल इंग्लिश पायेगें।

अपने मन से डर को निकाल दें

अपने मन से ये डर बिल्कुल निकाल दे कि मैं इंग्लिश बोल भी पाउँगा/पाउँगी कि नहीं, अगर गलत बोल दिया तो या फिर बोलते समय आपसे गलती होगी और लोग आपका मजाक उड़ायेगें। शुरुआत में बोलते समय सभी से कुछ ना कुछ गलतियां तो होती ही है जो कि स्वभाविक है। कभी शब्दों के उच्चारण में तो कभी व्याकरण संबंधी पर इसके डर से आप अंग्रेजी बोलना बिल्कुल भी ना छोड़े और लगातार प्रैक्टिस करते रहें। इससे आपका डर अपने आप निकल जाएगा और आप जल्द अच्छी इंग्लिश बोलने लग जाएगें। और रही गलती करने की बात तो ये तो सबसे होती है यहाँ तक कि जिनको अंग्रेजी बोलने आती है कभी-कभी उनसे भी गलती हो जाती है। अतः आप अपने मन सारे डर को निकाल दें और बस इंग्लिश बोलने पर ध्यान दें।

अंग्रेजी में सोचें और अनुवाद करके बोलने की आदत को बदलें

ये सुनने में थोड़ा अटपटा जरुर लगता है लेकिन ऐसा करने से आपको इंग्लिश बोलने में काफी मदद मिलेगी। हममें से ज्यादातर लोगों की भाषा हिन्दी या फिर कोई अन्य क्षेत्रिय भाषा होती है। जिसे बचपन से ही हमें सुनने और पढ़ने और बोलने की आदत होती है और इसलिये हम सोचते भी उसी भाषा में हैं। और यही आदत बदलने की जरुरत होती है। अंग्रेजी बोलने के लिये आपको अंग्रेजी में ही सोचने की जरुरत है। तो अगर आप भी अपनी भाषा में सोचकर कर फिर उसे इंग्लिश में अनुवाद करके बोलने की गलती करते हैं तो जितना जल्दी हो इस आदत को छोड़ दें। हिन्दी मीडियम से पढ़ने वालों में ये आदत कुछ ज्यादा ही पाया जाना कॉमन है। है। लेकिन ऐसा करने से आपकी इंग्लिश बोलने की प्रैक्टिस सही से नहीं हो पायेगी ऐसे में आपको अच्छी अंग्रेजी बोलने के लिये आपको अंग्रेजी में ही सोचने की जरुरत है। इससे आपकी सही और अच्छी इंग्लिश बोलने की आदत विकसित होगी। और कुछ समय बाद आप इंग्लिश बोलते समय बीच-बीच में रुकेगें भी नहीं।

अपने आसपास का महौल इंग्लिश वाला रखें

इंग्लिश बोलने के लिये जरुरी है कि आपके आसपास माहौल भी इंग्लिश वाला हों। अच्छी इंग्लिश बोलने के लिये अपने आसपास को माहौल इंग्लिश वाला ही रखें। इसके लिये आप ऐसे लोगों के साथ उठने-बैठने की आदत डालें जो कि इंग्लिश में बात करते हों, और ऐसे लोग आपको अपने वर्कप्लेस पर और स्कूल-कॉलेज हर जागह मिल जाएगें। जो कि बीना किसी की परवाह किये केवल इंगलिश में ही बात करना प्रेफर करते हैं। ऐसे लोगों के साथ रहके आपको अपनी बात कहने के लिये इंग्लिश बोलनी ही पड़ेगी और इस तरह आपकी इंग्लिश बोलने की प्रैक्टिस हो जाएगी।

इंग्लिश गाने और फिल्में देखें

अंग्रेजी बोलने के लिये सबसे जरुरी है पहले इसको सही से समझना और इसका सबसे बेहतर और आसान तरिका हो सकता है इंग्लिश गाने सुनना और इंग्लिश फिल्में देखना। इससे आपको इंग्लिश समझने में काफी मदद मिलेगी और साथ ही शब्दों को सही से उच्चारण करना भी सीख पायेगें। आप इंग्लिश न्यूजपेपर और किताबें भी पढ़ सकते हैं। इससे भी आपको उच्चारण के साथ ही नये-नये शब्दों को सीखने का मौका भी मिलेगा। अच्छी अंग्रेजी बोलने के लिये इसके शब्दों को ज्ञान रखना भी आवश्यक है। इसके लिये आप रोज पाँच नये शब्द सीखें और इस आदत को आप अपनी दिनचर्या में शामिल करें कि आपको रोज पाँच नये शब्द सीखने ही हैं। और इन शब्दों को याद रखने के लिये रटने के बजाए उनको अपने बोलचाल में शामिल करने की कोशिश करें। ऐसा करने से आप देखते ही देखते अच्छी इंग्लिश बोल लग जाएगें।

ज्यादा से ज्यादा प्रैक्टिस करें

आपने इंग्लिश की ये कहावत तो जरुर सुनी होगी कि प्रैक्टिस मेक्स अ मैन परफेक्ट जिसका हिन्दी में अर्थ होता है कि किसी भी चीज को लगातार अभ्यास करने से हम उसमें माहिर हो जाते हैं। और यहीं बात इंग्लिश बोलने पर भी लागू होती है। बीना प्रैक्टिस के एक दिन में तो कोई भी अच्छी इंग्लिश नहीं बोल सकता है। इसके लिये आपको लगातार प्रैक्टिस करते रहने की आवश्यकता है। आप जितनी ज्यादा से ज्यादा प्रैक्टिस करेगें आप उतनी ही बेहतर अंग्रेजी बोल पायेगें इसलिये जितना हो सके अंग्रेजी बोलने का अभ्यास करें। इसके लिये आप अपने फेमली मेम्बर्स और देस्तों की मदद ले सकते हैं और उनके सामने आप बीना किसी हिचकिचाहट के इंग्लिश बोल पायेगें। साथ ही आप चाहें तो इसके लिये मिरर का प्रयोग भी कर सकते हैं। आप मिरर के सामने खड़े होकर इंग्लिश बोलने की प्रैक्टिस करें। और अगर आपसे बोलने में गलती हो तो आप घबरायें नहीं और ना हीं शर्माने की जरुरत है। क्यूँकि हम सबको पता है कि किसी भी नई चीज को सीखने में थोड़ा समय तो लगता ही है। ऐसे में पेशेंस की भी बहुत जरुरत होती है , आप धीरज बनायें रखें और लगातार मेहनत करेगें तो आपको सफलता जरुर मिलेगी और आप जल्द ही बीना किसी संकोच के अच्छी अंग्रेजी बोलने लग जाएगें।

 

Language