फास्ट मूविंग कंज्यूमर गुड्स जिसे एफएमसीजी के नाम से भी जाना जाता है। एफएमसीजी कंपनियां लोगों की  दैनिक जरुरत के प्रोडक्ट तथा सर्विसेस के उत्पादन के लिये जानी जाती हैं। हम सभी अपने रोजमर्रा की जरुरतों को पूरा करने के लिये एफएमसीजी कंपनियों पर निर्भर करते हैं। इन कंपनियों द्वारा निर्मित उपभोक्ता सामाग्री से लोगों की आधारभूत जरूरतें पूरी होती है। और यही कारण है कि ये प्रोडक्ट्स जल्द ही बिक जाते हैं। ये कम लागत में तैयार होने वाले हाई क्वॉलिटी के प्रोडक्ट होते हैं। कंपनियों द्वारा इनकी कीमत लोगों की जरुरतों को ध्यान में रखकर कम से कम तय किये जाते हैं। भारत की बात करें तो यहाँ पर ज्यादातर लोग अपने दैनिक जरुरतों के लिये एफएमसीजी कंपनियों पर ही निर्भर करते हैं। आज हम आपको भारत के 5 बेस्ट एफएमसीजी कंपनियों के बारे में बतायेंगे।

1-Hindustan unilever

Hindustan unilever भारत के सबसे बड़े एफएमसीजी कंपनी में से एक है। इसका मुख्यालय भारत की आर्थिक राजधानी मुम्बई में स्थित है। इस कंपनी के द्वारा रोजमर्रा के प्रयोग के बहुत सारी चीजों का उत्पादन किया जाता है, जिसमें फूड एंड बेवरेज, स्किन केयर, पर्सनल केयर, और साथ ही वाटर प्यूरीफाइंग सेग्मेंट भी शामिल है। Hindustan unilever के अन्तर्गत कई सारे लोकप्रिय ब्रांड्स जैसे डव, पॉण्ड्स, पेप्सोडेंट, सनसिल्क, नॉर, स्योर, लक्स, लाइफब्वॉय, डव तथा वैसलिन ये सब आते हैं। रोजाना 2 बिलियन से भी ज्यादा लोग इसके उत्पादों का प्रयोग करते हैं। इस कंपनी का टर्न ओवर लगभग 4 बिलियन डॉलर का है। इसके कुल इम्प्लॉई 16 हजार से भी ज्यादा हैं।

2- Amul

दैनिक उपयोग के सामानों से जुड़े एफएमसीजी सेगमेंट में अमूल भारत का सबसे बड़ा ब्रांड है। पहले इसकी स्थापना  एक डेयरी के रुप में सन् 1946 में गुजरात में किया गया था। दुग्ध उत्पादन की एक सहकारी संस्था के रुप में इसकी शुरुआत की गई, जिसने पूरे भारत में श्वेत क्रांति ला दी और कुछ ही समय में भारत दुग्ध उत्पादन के मामले में विश्व के अग्रणी देशों में शामिल हो गया। अमूल की पहचान पूरे भारत में अपने डेयरी प्रोडक्ट्स के कारण एक बहुत ही बड़े ब्रांड के रुप है। अमुल दूध के साथ ही कई अन्य मिल्क प्रोडक्ट्स के लिये भी जाना जाता है। इसका संचालन गुजरात कॉपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन लिमिटेड के द्वारा किया जाता है। इसका एनुअल टर्न ओवर 45 हजार करोड़ रुपये के आसपास है।

3-ITC Limited

ITC Limited एक भारतीय एफएमसीजी कंपनी है, जिसका पूरा नाम है इंडिया टोबैको कंपनी। इसका वार्षिक टर्नओवर 7 बिलियन डॉलर का है। इसका कॉरपोरेट ऑफिस कोलकाता में स्थित है। अगर इस कंपनी के कर्मचारियों के संख्या की बात करें तो इनकी संख्या 29 हजार से भी ज्यादा है। आशिर्वाद आटा, बिंगो चीप्स, विवेल, फियामा, सवलॉन तथा मंगलदीप अगरबत्ती आदि इस कंपनी के अन्तर्गत बनने वाले कुछ खास लोकप्रिय उत्पाद हैं। फास्ट मूविंग कन्ज्यूमर आइटम्स के आलावा ये कंपनी हॉस्पिटैलिटी, एग्रीबिजनेस, पैकेजिंग, पेपर तथा आईटी सेक्टर में काम करती है।

4-Britannia Industries Limited

Britannia Industries Limited भारत का एक बहुत ही पुराना फूड निर्माता कंपनी है। इसकी स्थापना सन् 1892 में किया गया था। इसका मुख्यालय पश्चिम बंगाल की राजधानी कलकत्ता में स्थित है। इस कंपनी का सबसे लोकप्रिय ब्रांड ब्रिटानिया एंड टाइगर है, जिसके अन्त्रगत ये बिस्कुट, ब्रेड तथा अन्य डेयरी प्रोडक्ट्स का उत्पादन करती है।  ये अपने प्रोडक्ट्स भारत के साथ ही साथ दुनिया के अन्य 60 से भी ज्यादा देशों में बेचती है। एफएमसीजी सेक्टर्स में ये भारत की सबसे पुरानी कंपनियों से एक है। इसका कुल राजस्व लगभग 730 मिलियन डॉलर का है। साथ ही इस कंपनी में कार्यरत कर्मचारियों की संख्या 2 हजार से भी ज्यादा है। गुड डे, डेरीमिल्क, टाइगर तथा मैरी गोल्ड Britannia Industries Limited के तहत बनने वाले ये कुछ खास और लोकप्रिय ब्रांड हैं। इस कंपनी के 50 प्रतिशत से ज्यादा उत्पाद न्यूट्रिशियन से भरपूर होते हैं, जिनकी हमारे शरीर को खास तौर पर जरुरत होती है।

5- The Godrej Group

एफएमसीजी सेक्टर में The Godrej Group भारत की एक अग्रणी और बहुत ही प्रसिध्द कंपनी है। ये केवल भारत ही नहीं पूरे दुनिया में अपने उपभोक्ता उत्पादों के लिये जाना जाता हैं। इस कंपनी की शुरुआत 1897 में की गई थी। कंज्यूमर गुड्स के साथ ही साथ यह कंपनी रियल इस्टेट, होम अप्लाएंसेस तथा एग्रीकल्चरल प्रोडक्ट बनाने के लिये जाता है। उपभोक्ता उत्पादों में इसके पर्सनल एंड हेयर केयर तथा हाउसहोल्ड प्रोडक्ट्स लोगों के बीच बहुत ही लोकप्रिय हैं। बीब्लंट, इजी, सॉफ्ट एंड जेंटल, गोदरेज प्रोटेक्ट, गुड नाइट तथा सिंथॉल ये इसके अन्तर्गत बनने वाले कुछ बड़े ब्रांड्स हैं। इस कंपनी का मुख्यालय मुम्बई महाराष्ट्र में स्थित है। इसके कुल इम्प्लॉईज की संख्या 25 हजार से भी ज्यादा है। The Godrej Group का टर्नओवर 4 बिलियन डॉलर के करीब है और यही वजह है कि ये भारत के एफएमसीजी कंपनियों में महत्वपूर्ण स्थान रखता है।

 

        

 

Language